उत्तर प्रदेशचंदौली

धूरीकोट हत्याकाण्ड : छोटे भाई ने पत्नी से अवैध संबंधों को लेकर बड़े भाई को उतारा था मौत के घाट

 Younger brother killed his elder brother for illicit relations with his wife in chandauli

चंदौली। विगत दिनों कोतवाली क्षेत्र के धूरीकोट के रहने वाले राकेश यादव रोशन हत्याकांड का शुक्रवार को पुलिस ने खुलासा किया है। राकेश यादव की पिछले अगस्त माह की 28 तारीख को बसिला गांव के सिवान में कनपटी पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने बृहस्पतिवार को बलुआ थाना के इनामी बदमाश आशुतोष उर्फ चिटकू यादव को कुरहना में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था।

 Younger brother killed his elder brother for illicit relations with his wife in chandauli

बता दें कि चिटकू यादव भी राकेश की हत्या में वांछित था। पकड़े जाने के बाद जब उसने पूरा सच पुलिस को बताया तो लोगों की आंखें फटी रह गयी। इस खुलासे मृतक राकेश रोशन के छोटे भाई मुकेश यादव को शुक्रवार को धूरीकोट गांव के मोड़ के पास से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मुकेश ने अपनी पत्नी के साथ बड़े भाई राकेश रोशन यादव के अवैध संबंधों को लेकर गोली मरवाई थी।

 Younger brother killed his elder brother for illicit relations with his wife in chandauli

एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि पकड़ा गया आरोपित मुकेश यादव वर्ष 2017 में हत्या के एक मामले में जेल जा चुका है। गत जनवरी 2020 में जमानत पर जेल से बाहर आया। मुकेश के अनुसार बड़े भाई राकेश का अवैध संबंध मेरी पत्नी से हो गया। एक दिन उसने दोनों को रंगेहाथ पकड़ भी लिया था। जेल में रहने के दौरान मुकेश की दोस्ती बदमाश आशुतोष उर्फ चिटकू से हो गई थी। दोनों छह माह एक ही जेल में रहे थे। ऐसे में मुकेश ने आशुतोष और रामानंद हरिजन के साथ अपने बड़े भाई को ठिकाने लगाने की योजना बनाई। आशुतोष और रामानंद बहाने से राकेश रोशन को बसिला सिवान में ले आए और शराब पीने के दौरान मुकेश ने अपने बड़े भाई की कनपटी पर गोली मार दी। पुलिस ने उसके पास से नाइन एमएम का पिस्टल, दो मैगजीन और 10 कारतूस बरामद किया। आरोपित मुकेश का आपराधिक इतिहास रहा है और उसके विरुद्ध कई मामले दर्ज हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button