अमेठीउत्तर प्रदेश

मुसाफिरखाना कस्बे में विप्र सम्मेलन का किया गया आयोजन

अमेठी। जिले के मुसाफिरखाना कस्बे में शुक्रवार को विप्र सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें विप्र समाज की मजबूती के ऊपर विस्तृत रूप से चर्चा की गई। और वहीं इस सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे सपा प्रबुद्ध सभा के प्रदेश अध्यक्ष और ऊँचाहार के विधायक मनोज पाण्डेय को एक भब्य माला पहना कर उनका स्वागत किया गया। और वही मनोज पांडेय ने भगवान परशुराम की पूजाकर क्षेत्र के ब्राह्मणो को वस्त्र व घड़ी देकर सम्मानित किया। वहीं मनोज पांडेय ने कहा कि ब्राह्मण समाज ने हमेशा से ही देश को रास्ता दिखाने का काम किया है। और जब कभी भी देश को आवश्यकता पड़ी तो सबसे पहले ब्राह्मण समाज ने अपना सबकुछ न्योछावर किया है। ब्राह्मण ने कहीं सुदामा बनकर उदारता का परिचय दिया है तो कही चाणक्य बनकर बुद्धिमता का तो कही भगवान परशुराम के रूप मे अपना पौरुष भी दिखाया है। हम प्रदेश के हर जिले मे भगवान परशुराम व स्वातंत्रता सेनानी मंगल पांडेय की मूर्तियां लगवाने के लिए कटिबंद्ध है।

सुल्तान पुर और अमेठी के तमाम विप्र समाज के उन अग्रणी विप्र वंधुओ को जो कहीं शिक्षा व कहीं एडवोकेट तो कहीं समाजसेवी तो कहीं जनप्रतिनिधियो के रूप में समाज की सेवा करते है ऐसे सज्जन ब्राह्मण लोगों का यह कार्यक्रम था जिन्हें सम्मानित करने का आज हमें अवसर प्राप्त हुआ। ब्राह्मण हमेशा विश्व गुरु रहा है कहीं सुदामा बनकर उदारता का परिचय दिया है तो कहीं चाणक्य के रूप में इस देश में अपनी बुद्धिमता के बुद्धि का परिचय दिया है और अगर कहीं पराक्रम की बात आई है तो उसमें भी ब्राह्मण परशुराम जी के रूप में अपनी पराक्रम का परिचय दिया है हमे खुशी है कि भगवान बिष्णु के छाठवे अवतार भगवान परशुराम व स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के प्रथम नागरिक मंगल पांडे की मूर्तियां हम उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में लगवाने जा रहे हैं और हम साफ तौर पर कहेंगे कि अगर उत्तर प्रदेश सरकार ब्राह्मणों के ऊपर हो रहे अत्याचार को लेकर सजग नही हुई तो हम लोग सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर हो जाएंगे।

Show More

Related Articles

Back to top button