उत्तर प्रदेशमैनपुरी

अंतर्जातीय विवाह करने की मिली सजा अपनों ने ही बेटी को उतारा मौत के घाट

मैनपुरी। जनपद में ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है, दूसरी जाति के लड़के से शादी करने से नाराज व अपना अपमान महसूस कर रहे लड़की के परिवार वालों ने लड़की को पहले गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया, उसके बाद उसे छत से नीचे फेंक दिया, जिससे ये लगे कि लड़की की छत से गिर कर मौत हुई है। ये खुलासा पुलिस ने किया है, मामले में पुलिस ने लड़की के भाई और चाचा को गिरफ्तार किया है। वहीं तीन हत्यारे अभी फरार है।

बता दे कि घटना थाना किशनी इलाके के नगला कले गांव की है। जहां की रहने वाली युवती रूबी सिंह ने जालौन के रहने वाले सुनील गुप्ता से बीती 2 जुलाई को प्रेम विवाह किया था, मैरिज रजिस्टेशन भी करा लिया था। रूबी ठाकुर जाति से थी जबकि सुनील गुप्ता जाति से है। अर्न्तजातीय प्रेम विवाह से युवती रूबी सिंह के परिवार वाले बेहद खफा थे। रूबी के भाई सौरभ के शादी के रिश्ते में भी दिक्कत आ रही थी, रूबी के अर्न्तजातीय प्रेम विवाह के कारण सौरभ की शादी का रिश्ता तय नहीं हो पा रहा था, जिसके कारण रूबी सिंह का भाई सौरभ और परिवार के लोग अपमान महसूस कर रहे थे। इसी के चलते युवती रूबी सिंह के परिवार वालों ने रूबी सिंह को मार डालने की योजना बना डाली। योजना के तहत विश्वास में लेकर, युवती रूबी सिंह को उसके पति सुनील गुप्ता के घर से यह कहकर इटावा के रोडवेज बस अड्डा पर बीती 15 अक्टूबर को बुला लिया कि उसके भाई सौरभ की शादी पक्की होनी है। इटावा के रोडवेज बस अड्डा से रूबी सिंह को उसका चाचा रामू सिंह अपने साथ गांव थाना किशनी इलाके के नगला कले ले आया। योजनाबद्व तरीके से रूबी सिंह के भाई सौरभ सिंह व उसके चाचा रामू सिंह व पिता बैभवसिंह ने परिवार के दो अन्य लोगो के साथ मिलकर बीती 19 अक्टूबर की रात्रि रूबी की गला घोंटकर पहले हत्या कर दी, उसके बाद उसे छत से नीचे फेंक दिया। जिससे ये लगे कि रूबी छत से गिरकर मर गयी है।

इतना ही नहीं हत्यारों का नाटक यहीं तक नहीं रूका वह मृतक रूबी को लेकर इलाज के लिए कानपुर के लिए भी भागे। रास्ता में रूबी को मृत दिखाकर हत्यारों ने मृतक रूबी सिंह के पति सुनील गुप्ता को बिना सूचना दिये ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया। जानकारी होने पर सुनील गुप्ता ने रूबी सिंह के परिवार के 5 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया। घटना की गम्भीरता को देखते हुए मैनपुरी के एसपी अजय कुमार ने खुद जांच की कमान सम्भाली। पुलिस के हाथ हत्यारों तक आखिरकार पहुंच गये। मामले में पुलिस ने युवती रूबी सिंह की हत्या करने वाले उसके भाई सौरभ व चाचा रामूसिंह को गिरफ्तार किया है। तीन आरोपी अभी फरार है। जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

Show More

Related Articles

Back to top button