उत्तर प्रदेशवाराणसी

डिबार हटाने की मांग को लेकर बीएचयू के कुलपति आवास के सामने धरने पर बैठे छात्र

वाराणसी। काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) आए दिन किसी ना किसी बात को लेकर सुर्खियों में बना रहता है। हालांकि, इस समय कोरोना के बावजूद भी बीएचयू के छात्र कुलपति आवास के सामने धरने पर बैठ गए। पिछले दिनों बीएचयू में रजत सिंह और मृत्युंजय मौर्य को 2018 में ब्लैक लिस्टेड कर दिया गया था। डिबार होने के कारण इन छात्रों का एडमिशन नहीं हो पा रहा है। जिससे नाराज होकर आज यह दोनों छात्र कुलपति आवास के पास जाकर धरने पर बैठ गए।

Students sitting on dharna in front of BHU Vice Chancellor's residence to demand removal of debar in varanasi

बता दें, रजत सिंह (पीएचडी प्रवेश) और मृत्युंजय मौर्या (कॉन्फ्लिक्ट मैनेजमेंट) के प्रवेश परीक्षा में इन दोनों का चयन हो गया है। छात्रों का कहना है कि हम लोगों को दीवार मुक्त किया जाए अन्यथा हमारा यह आमरण अनशन इसी तरह जारी रहेगा। रजत सिंह ने बताया कि हमारी तरह नौ और छात्रों को डिबार कर दिया गया है जिनका भविष्य अंधकारमय हो गया है। छात्रों के आमरण अनशन पर बैठने के बाद बीएचयू प्रशासन छात्रों से वार्ता करने में जुट गया है।

Show More

Related Articles

Back to top button