उत्तर प्रदेशगोरखपुरदेश

टीकाकरण से कतरा रहे कुछ स्वास्थयकर्मी, अब तक नहीं लगवाया टीका

गोरखपुर। पहले चरण में कोरोना का टीका नहीं लगवाने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को बाद में आम आदमी वाले चरण में टीका लगवाना पड़ेगा। सरकार ने पांच फरवरी तक टीकाकरण का पहला चरण खत्म होने के संकेत दिए हैं। यानी स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगवाने के लिए अब चार दिन ही बचे हैं। 28 व 29 जनवरी और चार व पांच फरवरी को ही स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा।

Some health workers shying away from vaccinations, have not yet been installed in gorakhpur

केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार पहले चरण में जिले के तकरीबन 25 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगना था। इनमें सरकारी क्षेत्र के तकरीबन 12 हजार और निजी क्षेत्र के तकरीबन 13 हजार स्वास्थ्यकर्मी शामिल हैं। 16 जनवरी से शुरू हुए टीकाकरण के पहले दिन जिले के छह बूथों पर छह सौ स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगना था लेकिन सिर्फ 310 स्वास्थ्यकर्मियों ने ही टीका लगवाया। 22 जनवरी को पहले चरण के टीकाकरण के दूसरे दिन 41 बूथों पर 41 सौ स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगवाना था लेकिन सिर्फ 2904 स्वास्थ्यकर्मी ही बूथ पर पहुंचे।

जिले में अभी तकरीबन 22 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाना है। चार दिन के टीकाकरण में यदि इन स्वास्थ्यकर्मियों ने टीका नहीं लगवाया तो इन्हें दूसरे चरण में शामिल नहीं किया जाएगा। दो दिन के टीकाकरण में 3214 स्वास्थ्यकर्मियों को ही टीका लग सका है।

सिर्फ उन्हीं को टीका लगेगा जिनका पूरा विवरण कोविन पोर्टल पर दर्ज है। इसके अतिरिक्त कोई भी सीधे टीका नहीं लगवा सकता है। दूसरे चरण में 15 हजार प्रशासन, पुलिस, नगर निगम और अन्य विभागों के अफसरों व कर्मचारियों के साथ ही जनप्रतिनिधियों को टीका लगाया जाना है। कोविन पोर्टल के माध्यम से इनके पास सूचना भेजी जाएगी। तय तिथि पर इन सभी को संबंधित बूथों पर पहुंचना होगा।

Show More

Related Articles

Back to top button