उत्तर प्रदेशदेशप्रतापगढ़

प्रेस कांफ्रेस में प्रमोद तिवारी ने केंद्र सरकार पर जमकर साधा निशाना

प्रतापगढ़। जिले में आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस कमेटी के सदस्य व प्रदेश प्रभारी प्रमोद तिवारी ने जमकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा और राज्य सरकार की योगी सरकार पर भी जमकर हमलावर हुए। पेट्रोल दाम पर बोले कि दाम नहीं बनना चाहिए सेंट्रल गवर्नमेंट और राज्य गवर्नमेंट का जो बैट लगा है। इसकी वजह से पेट्रोल डीजल आज सौ रुपए पहुंच गया है। अडानी और अंबानी का पेट्रोल डीजल टंकी चलती रहे इसके लिए उन्होंने सौ रुपए प्रति लीटर किया है। अगर 70 रूपये से कम पेट्रोल का दाम आ जाता है तो अडानी और अंबानी की पेट्रोल टंकी बंद हो जाएगी। उन्होने कहा की हम दो हमारे दो के नारे को अमलीजामा पहनाते हुए कोविड-19 की वैश्विक महामारी में मोदी जी द्वारा संदेश दिया गया की आपदा को अवसर में बदलो, यह पूरी तरह चरितार्थ हुआ है।

Pramod Tiwari fiercely targeted the central government in the press conference in pratapgadh

हुरून ग्लोबल रिच लिस्ट, के अनुसार जहां गुजराती श्री गौतम अडानी की संपत्ति वर्ष 2020 सौ परसेंट बड़ी, वहीं दूसरे गुजराती श्री मुकेश अंबानी की संपत्ति में 2020 में 24 परसेंट का इजाफा हुआ है। एशिया महाद्वीप के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए। प्रमोद तिवारी ने सरकार को कटघरे में खड़े करते हुए जमकर निशाना साधते हुए बोले कि एक तरफ स्विस समझौते का उल्लंघन करते हुए चीन से कु्रता पूर्वक हमारे निहत्थे बील जवान को शहीद किए तब माननीय प्रधानमंत्री जी ने संदेश दिया था कि चीन सामान का बहिष्कार करो जनता से तो उन्हें उन्होंने यह कहा परंतु उनके नेतृत्व में केंद्र सरकार ठीक इसके उल्टा कर रही है और चीन से फरवरी माह तक का आयत 7% बढ़ा, जबकि फरवरी माह में निर्यात 0.25% नीचे गिरा। इससे स्पष्ट हो जाता है कि मोदी सरकार की कथनी और करनी में कितना अंतर है। आखिर मोदी जी की कौन सी मजबूरी है, कि चीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष झूला भी झूलाते हैं, वीर जवान के शहीद होने पर कठोर संदेश नही देते हैं, तथा ना ही जितना ही करते हैं आखिर क्यों ऐसी क्या मजबूरी है।

प्रमोद तिवारी ने कहा कि पूर्वांचल में, विशेष रुप से प्रतापगढ़ में जिस तरह से बिजली कमियों का अनियमित कनेक्शन के नाम पर तकनीकी कमियां निकाल कर उपभोक्ताओं को विशेष रूप से किसानों पर बिजली बिजली विभाग की कम हो रही है और ज्यादा और दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button