उत्तर प्रदेशकानपुर

पुलिस ने सटोरियों को दबोचा, 93 लाख से ज्यादा रकम बरामद

ads

कानपुर। जनपद की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है जिसमे अंतर्राज्यीय सटोरियों के गिरोह का भंडाफोड़ कर छह लोगों को गिरफ्तार किया गया साथ ही 93 लाख 72 हज़ार 130 रुपए की रकम भी बरामद की गयी है।

Police seized bookies and recovered more than Rs 93 lakh in kanpur

डीआईजी डॉ प्रीतिंदर सिंह के आदेश अनुसार, एसपी पश्चिम डॉक्टर अनिल कुमार और एसपी दक्षिण दीपक भूकर की संयुक्त टीम ने मिलकर एक अंतरराज्यिय सटोरियों के की गैंग का पर्दाफाश कर दिया है जिसमें छह लोगों को गिरफ्तार करके 93 लाख 72 हजार 130 रुपए और साथ ₹27000 नेपाली करेंसी, एक कैश काउंटिंग मशीन 11 मोबाइल फोन एक लैपटॉप और साथ ही एक रजिस्टर भी बरामद किया है जिसमें सट्टे का लेनदेन सहित अन्य विवरण लिखा है। गिरफ्तार अभियुक्तों में पहला हरप्रीत सिंह बेदी, दूसरा रीशु अरोड़ा, तीसरा विनोद कुमार छाबड़ा, चौथा ईशान भाटिया, पांचवा रीजक सिंह और छठा गुरमीत सिंह है।

एसएसपी कानपुर डॉ प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से कानपुर नगर में क्रिकेट मैच पर सट्टा खेलने की शिकायत आ रही थी। इस सूचना पर इससे जुड़े अपराधियों को पकड़ने के लिए डीआईजी/एसएसपी कानपुर नगर डॉ० प्रीतिंदर सिंह द्वारा एसपी साउथ दीपक भूकर और एसपी वेस्ट डॉक्टर अनिल कुमार सहित ट्रेनी सहायक पुलिस अधीक्षक अजय जैन और सीओ बाबू पुरवा आलोक कुमार सिंह की रहनुमाई में एसओजी टीम व थाना नजीराबाद थाना फजलगंज थाना काकादेव पुलिस की संयुक्त टीम गठित की गई थी। संयुक्त टीम द्वारा आज मगर की सूचना पर थाना नजीराबाद, थाना फजलगंज व थाना काकादेव क्षेत्र से 6 लोगों को सट्टा खेलते हुए पकड़ा गया जिनके कब्जे से 93 लाख 72 हजार 130 रुपए और साथ ही 27 हजार रूपए नेपाली करेंसी भी बरामद हुई इसी के सात कैश काउंटिंग मशीन 11 मोबाइल और एक लैपटॉप भी मिला है।

एसएसपी कानपुर ने आगे बताया कि पिछले कुछ दिनों से कानपुर नगर में क्रिकेट मैच पर सट्टा खेलने की शिकायत आ रही थी इस सूचना पर इससे जुड़े अपराधियों को पकड़ने के लिए डीआईजी/एसएसपी कानपुर नगर डॉ० प्रीतिंदर सिंह द्वारा एसपी साउथ दीपक भूकर और एसपी वेस्ट डॉक्टर अनिल कुमार सहित ट्रेनी सहायक पुलिस अधीक्षक अजय जैन और सीओ बाबू पुरवा आलोक कुमार सिंह की रहनुमाई में एसओजी टीम व थाना नजीराबाद थाना फजलगंज थाना काकादेव पुलिस की संयुक्त टीम गठित की गई थी। संयुक्त टीम द्वारा आज मगर की सूचना पर थाना नजीराबाद, थाना फजलगंज व थाना काकादेव क्षेत्र से छह लोगों को सट्टा खेलते हुए पकड़ा गया। जिनके कब्जे से 93 लाख 72 हजार 130 रुपए और साथ ही 27 हजार रूपए नेपाली करेंसी भी बरामद हुई इसी के सात कैश काउंटिंग मशीन 11 मोबाइल और एक लैपटॉप भी मिला है।

Police seized bookies and recovered more than Rs 93 lakh in kanpur

एसएसपी ने बताया कि मुख्यता सट्टे के रुपए का लेनदेन हरप्रीत सिंह बेदी के घर से होता था इसलिए हरप्रीत सिंह अपने घर पर कैश काउंटिंग मशीन भी रखता था पूछताछ मेंअभियुक्त गणों ने बताया कि हम लोग मोबाइल पर ओवर में रन और मैच की हार जीत पर सट्टा लगाते हैं। निश्चित ओवरों में रन की संख्या निश्चित करते हैं जैसे 10 ओवर में 70 रन अगर 69 रन ही बना तो पैसा खेलने वाला जीत जाता है और अगर 70 या उससे ऊपर बना तो खिलाने वाला जी जाता है। इसी तरह से अगर 10 ओवर में 65 रन तय हुआ तो 65 या उससे ऊपर रन बन गया तो खेलने वाला रकम जीत जाता है और अगर 65 नहीं बना तो खिलाने वाला रकम जीत जाता है। इसी तरह टीम के हार जीत व स्कोर पर सट्टा लगता है यह गैंग एक अंतरराज्यीय गैंग है जिसे मोबाइल पर सोनू सरदार नामक व्यक्ति जयपुर से ऑपरेट करता है। पकड़े गए अभियुक्तों में ईशान भाटिया रिशु और विनोद छाबड़ा पहले भी जेल जा चुके हैं अभियुक्त ईशान भाटिया जय वाजपेई की कमेटी से जुड़ा है और कमेटी में लेन-देन करता है मोबाइल में दोनों के चैट मिले हैं अभियुक्त गणों के खिलाफ थाना नजीराबाद फजलगंज और काकादेव में मुकदमा दर्ज करके जेल भेजा जा रहा है। इस काम में कुछ और लोगों के नाम भी सामने आए हैं जिनपर नियमानुसार विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close