उत्तर प्रदेशचंदौली

मुगलसराय में एक्टिव हैं ‘फंटर’, लग रहा है लाखों का सट्टा

चंदौली। जिले के मुगलसराय इलाके में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) शुरू होने के बाद से सट्टेबाजों में सरगर्मी आ गई है। नगर में ऐसी चर्चा है कि फंटर (सटोरिये) मैच में लाखों रुपये का दांव लगा रहे हैं लेकिन इन पर पुलिस का हंटर नहीं चल पा रही है। मोबाइल बजते ही हर रोज सट्टेबाजों का कोड बदल जा रहा है। खाया व लगाया शब्द का इस्तेमाल किया जा रहा है, ताकि केवल उनके कोड इनसे जुड़े लोग ही समझ पाएं।

ऐसा कहा जा रहा है कि मुगलसराय नगर के सुभाष नगर, रविनगर, कैलाशपुरी, शाहकुटी, गल्लामंडी, मैनाताली में रोजाना लाखों रुपये का सट्टा लग रहा है। यहां पर वाराणसी जिले से भी युवक सट्टा लगाने के लिए पहुंच रहे हैं। कुछ दिन पूर्व तो रुपये वसूलने को लेकर एक युवक पर उसके साथी ने ही गोली तक चला दी थी।

कुछ लोगों का तो यह भी कहना है कि खुलेआम हो रहे सट्टे के खेल की पुलिस को जानकारी है। कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है यह तो वही जाने। आईपीएल क्रिकेट मैच शुरू होने के बाद से ही नगर में सट्टा कारोबार एक बार फिर शुरू हो गया। 56 दिनों तक चलने वाले खेल के महाकुंभ में लाखों रुपये की हार जीत का दौर शुरू हो गया है। पान व चाय की दुकानों, नुक्कड़ व चौराहों पर शाम होते ही जैसे ही आईपीएल मैच होते हैं, वैसे ही ही लोगों का टीवी के सामने हुजूम लगने लगता है। ऐसा नहीं है कि शहरी क्षेत्र में ही सट्टा लग रहा है। सट्टेबाजों के तार ग्रामीण क्षेत्रों तक जुड़े हुए हैं।

वहीं कहा जा रहा है कि एक दो ओवर होने के बाद सटोरिये मोबाइल से एक दूसरे से संपर्क साधकर दांव पर दांव लगाना शुरू कर देते हैं। सट्टे के खेल में कोड वर्ड का इस्तेमाल होता है। सट्टे पर पैसा लगाने वाले को फंटर कहते हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button