उत्तर प्रदेशवाराणसी

बचके रहना रे बाबा : सेक्सी वीडियो चैट के मायाजाल से

 

 Maya Jajal stay away from sexy baba sexy video chat in varanasi

(गजेन्द्र सिंह)

वाराणसी। आज इंटरनेट का जमाना है पुरा विश्व इसकी मुठ्ठी में आ गया है और फेसबुक, व्हाट्सप्प के जरिए जाने-अनजाने लाखों लोग आपको देख रहे है इसी के साथ फेसबुक, व्हाट्सप्प और तमाम एप के जरिए ठग भी आपको निशाना बनाते है और ऐसा मायाजाल फैलाते है कि कभी-कभी जाने अनजाने लोग ठगो के चंगुल में न चाहते हुए भी फंस जाते है।

सोशल मीडिया का सबसे लोकप्रिय माध्यम फेसबुक है और ठग आपको अनेकोनेक रुप में मिलेंगे। मैसेंजर के माध्यम से मेरे मित्र राजेश को एक मैसेज आया कि आप 50 हजार डालर जीत गये हैं। करोड़ों से ऊपर भारतीय नोट और राजेश के व्हाट्सप्प पर भी यह मैसेज आया और मैसेज के साथ एक अपरिचित अखबार का कटिंग भी आया कि अभी तक इतने भारत के लोग करोड़ों रुपये जीत चुके हैं। जिनका फोटो अखबार में छपा है इतना ही नही कम्पनी का एक विडियो भी भेजा गया कि कम्पनी कैसे इनाम दे रही है इसे आप फ्राड ना समझे बस एक लाख रुपये की मनी एक्सचेंज के लिए कंम्पनी के खाते में भेज दें कम्पनी आपके खाते में दो करोड़ 35लाख रुपये ट्रासफर कर देगी। अब राजेश काफी उलझन में पड़ गया। खैर वो इसके लिए कई जानकारों से मिले और तब उन्हे ज्ञान हुआ कि उन्हे फंसाया जा रहा है और वह ठगने से बच गये।

वहीं, विनोद मिश्रा ने फेसबुक पर एक एड देखा कि एक शैम्पु जिसे लगाने से पांच मिनट में बाल काले हो जायेगे और झांसे में आ गये 1500रु का पार्सल मंगा लिया पैसा देकर पार्सल खोला तो पार्सल में सिर्फ खाली डिब्बा था कोई शैम्पु नहीं था। इसी तरह रामभरोसे नामक व्यक्ति ने फेसबुक पर एक फाइनेंस कम्पनी का एड देखा सिर्फ आधार कार्ड पर दो लाख रुपये लोन का आवेदन दिया और लोन देने के नाम पर कम्पनी ने पांच हजार रु अपने खाते में ले लिया और लोन का दो लाख रुपया रामभरोसे के खाते में नहीं आया महीनों बाद रामभरोसे को ठगे जाने का पता लगा। आश्चर्य है कि नामी-गिरामी कंपनियों के एड फेसबुक और अखबारों के माध्यम से किया जा रहा है।

इसके लिए फेसबुक पर महिलाऐ सक्रिय हैं जो, आपके फैन्डलिस्ट मे आकर आपको सेक्सी बातों में फंसाकर आपसे वीडियो चैटिंग करती हैं और खुद नग्न होकर आपसे चैट करते हुए आपका विडियो बना लेंगी और फिर आपका विडियो नेट पर लोड करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करना शुरु कर देती हैं। यहां तक की इस ठगी में खुबसुरत हिजडे भी महिला के नाम पर आईडी बनाकर यही ट्रिक लगाकर लोगों को ब्लैकमेल कर रहे है और तो और फेसबुक पर ब्लैकमेलर गे यानि समलैगिंग भी सक्रिय हैं जो लोगो को फंसाकर पैसे इसी ट्रिक से वसुल रहे है यहां तक कि गे लोगों का अलग से ग्रुप या साइट भी बहुत से बन गये है। सबसे बड़ी बात कि सोशल मीडिया पर यह सब रोकने के लिए अभी तक कोई प्रभावी कानुन नहीं है। जिससे यह धंधा अभी जोरों पर चल रहा है।

Show More

Related Articles

Back to top button