अलीगढ़उत्तर प्रदेश

फरियादियों की तरह विकासखंड टप्पल भी देख रहा अधिकारियों की राह

अलीगढ़। विकासखंड टप्पल अधिकारियों बिना खाली पड़ा रहा। फरियादी फरियाद लेकर अधिकारियों का इंतजार कर रहे हैं लेकिन अधिकारी समय से आने से लाचार है। यह विकासखंड टप्पल का हाल है। कब होगा किसानों का कार्य? कब तक लगाएंगे किसान विकास खंडों के चक्कर?

 Like the complainants, the development block is also looking for the way of the officials in aligadh

प्राप्त जानकारी के अनुसार, अलीगढ़ तहसील खेर का विकासखंड टप्पल जो तहसील खेर से मात्र 30 किलोमीटर की दूरी पर है जिसमें टप्पल ब्लॉक में अनेक गांव आते हैं। वहां पर जो भी फरियादी फरियाद लेकर आता है या तो उसको अधिकारी नहीं मिलते हैं और अगर मिलते भी हैं तो उनको समझा-बुझाकर भेज दिया जाता है। फिर दूसरी बार किसान आता है तो जो अधिकारी उसे समझाता है वह भी मौके पर नहीं मिलता। ऐसा हाल विकासखंड टप्पल का है। यहां पर अधिकारी केवल अपना समय पास करने के लिए आते हैं लेकिन समय पर कोई नहीं आता केवल कैमरा के सामने आए तो संविदा कर्मचारी उनकी बातें सुनकर देखकर आप दंग रह जाएंगे की टप्पल विकासखंड पर अधिकारियों का समय 10 बजे से है लेकिन अधिकारी 11 बजे से पहले कोई नहीं आता अगर कोई अधिकारी आता भी है तो वे अपनी हाजिरी लगाने के लिए आता है और फील्ड का बहाना लेकर निकल जाता है जब कैमरा के सामने 10:17 पर जो वहां संविदाकर्मी थे केवल वही आए थे जिन्होंने की अपने ऑफिसों का ताला भी नहीं खोल पाए और जो उनसे पूछा गया कि आप का समय कितने बजे का है तो उन्होंने बताया 10 बजे का है फिर उनसे पूछा गया कि आप लोग इतनी लेट क्यों आते हो तो किसी ने गाड़ी पंचर होने का बाना लगाया किसी ने बता दिया हम अलीगढ़ निवास करते हैं इसलिए लेट हो जाते हैं अब यह ऐसा हाल अगर विकासखंड टप्पल का है तो अन्य विकास खंडों का क्या हाल होगा आखिर ऐसे अधिकारियों पर कब होगी कार्रवाई कब क्या ऐसे ही मनमानी करते रहेंगे अधिकारी आखिर कब किसानों का हक मिलेगा।

 Like the complainants, the development block is also looking for the way of the officials in aligadh

जब इस विषय को लेकर एसडीएम खैर अंजनी कुमार से बात हुई तो तो उन्होंने बताया कि अगर ऐसा पाया गया है तो ऐसे अधिकारियों की जांच होगी और जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। ऐसे ही सब अधिकारी पल्ला झाड़ते रहते हैं, आखिर कब होगी कार्रवाई।

Show More

Related Articles

Back to top button