अलीगढ़उत्तर प्रदेश

किशोरी को बरामद करने के नाम पर दारोगा ने परिवार से लिए ₹20 हजार रिश्वत

अलीगढ़। एक तरफ जहां प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए तमाम तरह के दावे और वायदे कर रही है। लोगों को जागरूक करने के लिए करोड़ों रुपए खर्च भी कर रही है। वहीं अलीगढ़ के थाना दादों इलाके के हुसैनपुर गांव निवासी एक परिवार ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि पीड़ित की एक किशोरावस्था की बिटिया 10 दिन से गायब चल रही है। बिटिया को बरामद कराने के नाम पर इलाके के दारोगा ने ₹50,000 की डिमांड की। पीड़ित परिवार ने किसी प्रकार ₹20,000 जुटाकर दे भी दिए, लेकिन 10 दिन बीत जाने के बावजूद भी पुलिस और व दारोगा बिटिया का कोई भी सुराग जुटा नहीं सके हैं। जिसके चलते पीड़ित परिवार ने न्याय की गुहार लगाते हुए एसएसपी की चौखट पर सिर पटक दिया है।

 In the name of recovering the teenager, the jailor took a bribe of ₹ 20 thousand from the family in aligadh

ऐसा हम इस वजह से कह रहे हैं क्योंकि 10 दिन से लापता किशोरी की बुजुर्ग दादी विलाप करते हुए एसएसपी दफ्तर पर गश खाकर गिर पड़ी। हालांकि, इस मामले पर एसपी देहात ने परिवार को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया है। तो वहीं दारोगा द्वारा मांगी गई रिश्वत का सबूत परिवार से मांगा है। जिसकी जांच कर कार्रवाई का भी आश्वासन दिया गया है।

 In the name of recovering the teenager, the jailor took a bribe of ₹ 20 thousand from the family in aligadh

Show More

Related Articles

Back to top button