उत्तर प्रदेशगोंडा

गोंडा जिला प्रशासन बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है प्रयासरत

गोंडा। उत्तर प्रदेश सरकार ने नारी मिशन शक्ति के तहत प्रदेश के कई थानों में महिला हेल्प डेस्क का उद्घाटन तो कर दिया है तो वही गोंडा का जिला प्रशासन बालिकाओं महिलाओं को आत्मनिर्भर और स्वावलंबी बनाने के लिए लगातार प्रयासरत है। कहीं पर बच्चियों को ताइक्वांडो  सिखाए जा रहे हैं तो एंटी रोमियो टीम स्कूल में बालिकाओं को उनके अधिकार डायल 112, 1090 सहित पुलिस की सुरक्षा के बारे में जागरूक कर रहा है। प्रत्येक थाने की एंटी रोमियो टीम अपने क्षेत्र के शहर और कस्बों में आने जाने वाली महिलाओं बच्चियों को शाम के समय में जागरूक कर उनका हाल जान रही है।

Gonda district administration is trying to make girls self-reliant

पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय का कहना है कि थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना कर दी गई है जो भी महिला बच्चियों के साथ छेड़खानी व अन्य अपराध करेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बालिकाओं महिलाओं को जागरूक किया जा रहा है। शासन की मंशा है कि उनको आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है जिसके तहत उनको सीख दी जा रही है और पुलिस की सुरक्षा और उनके क्या अधिकार उनके बारे में जागरूक किया जा रहा है। 1090 वूमेन पावर लाइन सहित हेल्पलाइन के बारे में जागरूक भी किया जा रहा है। एंटी रोमियो टीम स्कूल कॉलेजों में छात्रों को जागरूक कर रही है।

Gonda district administration is trying to make girls self-reliant

Show More

Related Articles

Back to top button