उत्तर प्रदेशगोंडा

आगामी त्योहारों को लेकर खाद्य विभाग सतर्क, जगह-जगह छापेमारी जारी

 Food department cautious about upcoming festivals in gonda

(राजमंगल सिंह)

गोण्डा। जनपद में त्योहारों से पहले खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग मिलावटखोरों पर कार्रवाई करने से पहले रणनीति बना लेता है चाहे दीपावली का त्यौहार हो या फिर होली का दोनों त्योहारों में मिलावट खोर हावी होकर मिलावट खोरी करते हैं और कानपुर सहित अन्य जिलों से नकली खोए की भी भरमार लाकर जिले में खपाने का काम करते हैं। मिलावटखोरों से निबटने के पहले खाद्य विभाग ने अपने क्षेत्रीय अधिकारियों को सतर्क कर दिया है।

 Food department cautious about upcoming festivals in gonda

इसके लिए लगातार सूचना एकत्र की जा रही हैं, इन सूचनाओं के आधार पर मिलावटखोरों पर कार्रवाई की जाएगी बीते दिनों मुख्यालय से मोबाइल वैन से जांच की गई थी। मोबाइल वैन खोए के 11 नमूने लिए गए थे जिसमें से आठ नमूने पास हुए थे। बाकी सारे नमूने फेल हो गए थे जो नमूने फेल हुए थे उनको जांच के लिए लैब भेज दिया गया है और उस रिपोर्ट आने पर उसी के आधार पर कुश्ती के आधार पर त्योहार से पहले मिलावटखोरों पर बड़ी कार्रवाई खाद्य रसद विभाग करेगा। कोविड-19 के नियमों के पालन कराने के लिए जिले के बड़े मिठाई विक्रेताओं से भी वार्ता कर पालन करने के निर्देश दिए गए हैं साथ ही साथ सभी मिठाई विक्रेता मिठाई के नाम के साथ उसका उचित दाम और एक्सपायरी डेट भी दर्शाएगे।

 Food department cautious about upcoming festivals in gonda

आगामी त्यौहार दीपावली से पहले मिलावटखोरों से निपटने के लिए खाद्य औषधि सुरक्षा विभाग ने कमर कस ली है और तैयारियों में जुटा हुआ है अभिहित अधिकारी विनय सहाय का कहना है ।दीपावली त्यौहार पर खोए की ज्यादा डिमांड होती है इससे संभावना हो सकती है कि जिले में अधिक खोए की आपूर्ति हो सकती है और उसको बाजार में खपाया जाए इस पर विभाग और मुख्यालय स्तर पर तैयारी की गई है हमने अपने स्तर से भी विभिन्न बाजारों से सूचनाएं एकत्र कर रहे हैं कि कहां पर लोकल बन रहे हैं और कहां तक बाहर से आ रहे हैं पहले के तरीके बदल दिए गए हैं जिससे सतर्कता ज्यादा बढ़ गई है और इसी के चलते मोबाइल बैन से भी जांच की जा रही है और दीपावली त्यौहार शुरू होने के पहले ही क्षेत्रीय अधिकारियों को सतर्क कर दिया गया है और उनके सूचना के आधार पर कार्रवाई की जाएगी मोबाइल बैंक से जांच के दौरान कुल 11 खोए के नमूने लिए गए हैं इसी 11 नमूने में से 8 पास आए और बाकी नमूने फेल आए हैं इसकी विस्तृत जांच मुख्यालय से कराई जा रही है किस में क्या क्या मिलावट किया गया है इस आधार पर एक रिपोर्ट तैयार की जाएगी इसी आधार पर दीपावली पर कार्रवाई की जाएगी इन पर और भी कार्रवाई करने की जरूरत है मिलावटखोरों को बाजार में खोया का पानी और लाने का तरीका बदला है क्योंकि बीते सालों में बड़ी कार्रवाई होने के बाद मिलावटखोरों ने अपने तरीके में बदलाव किया है और दीपावली त्योहार से पहले मिठाई दुकान मालिकों से भी वार्ता की गई कि कोविड-19 का पालन करें और सभी मिठाई की दुकान पर इस एक्सपायरी डेट भी लिखें।

Show More

Related Articles

Back to top button