अमेठीउत्तर प्रदेश

डीएम अरुण कुमार ने अचानक संग्रामपुर ब्लॉक में पहुंचकर किया निरीक्षण

अमेठी। जनपद में सोमवार को अधिकारियों में उस समय हड़कंप मच गया जब डीएम अरुण कुमार अचानक संग्रामपुर ब्लॉक के इंपेक्श्न में पहुंच गए। मनरेगा के काम की नाप जोख के लिए डीएम ने खंड विकास अधिकारी से फीता मांगा नही मिलने पर फटकार लगाई। साथ ही कार्य में लापरवाही को देखते हुए डीएम ने ग्राम पंचायत अधिकारी को सस्पेंड करने और एपीओ मनरेगा की संविदा समाप्त करने का निर्देश दिया।


वहीं सोमवार सुबह एकाएक अमेठी के डीएम अरुण कुमार अचानक संग्रामपुर ब्लॉक पहुंच गए। डीएम के ब्लॉक पहुंचते ही वहां उपस्थित अधिकारियों और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। दरअसल, डीएम को इस ब्लॉक में मनरेगा के तहत कराए जा रहे कार्यों में लापरवाही की सूचना मिल रही थी। इसके तहत डीएम ने ब्लॉक पर मनरेगा की फाइलों का गहनता से निरीक्षण किया। फिर वहां से डीएम का काफिला जिस स्थान पर मनरेगा का काम चल रहा था वहां पहुंचा। यहां खंड विकास अधिकारी से उन्होने नाप जोख के लिए फीता मांगा तो वो लेकर नही आए थे। जिस पर डीएम ने उन्हें फटकार लगाई। डीएम ने मनरेगा से संबंधित पत्रावली मांगे जाने के बाद उपलब्ध ना होने पर भी खंड विकास अधिकारी को फटकार लगाई। मनरेगा के कार्यों में की जा रही लापरवाही को लेकर ग्राम पंचायत अधिकारी को सस्पेंड करने का तथा एपीओ मनरेगा की संविदा समाप्त करने का निर्देश दिया है।

Show More

Related Articles

Back to top button