अमेठीउत्तर प्रदेश

दलित प्रधान की संदिग्ध परिस्थितियों में जलाकर की गई हत्या

अमेठी। केंद्रीय मंत्री और सांसद स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में दिल दहलाने वाली घटना सामने आई। जहां बेख़ौफ़ दबंगो ने पहले तो दलित ग्राम प्रधान का अपहरण किया। बाद में एक मकान के बाउंड्रीवाल में ले जाकर जिंदा जलाकर मौके से फरार हो गए। प्रधानपति की चीख पुकार सुन मौके पर पहुँचे परिजन गंभीर हालत में प्रधानपति को लेकर निजी अस्पताल पहुँचे जहां इलाज के दौरान प्रधानपति अरुण की मौत हो गई।।

मामला मुंशीगंज थाना क्षेत्र के बंदोईया गांव का है जहाँ गुरुवार की देर शाम महिला ग्राम प्रधान छोटका के पति अर्जुन गांव से गायब हो गए और कुछ देर बाद गांव के ही एक मकान की बाउंड्री में अर्जुन करीब 90 फ़ीसदी अवस्था में जले हुए मिले। जैसे ही मामले की जानकारी आसपास के ग्रामीणों और परिजनों को हुई और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया जहां इलाज के दौरान दलित प्रधान पति की मौत हो गई। प्रधान पति की मौत के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया। वहीं परिजनों ने गांव के ही 5 लोगों पर आरोप लगाया है कि देर शाम करीब छह बजे पहले अपहरण किया गया। उसके बाद जला कर उनकी हत्या कर दी गई।

मृतक अर्जुन के परिजनों की माने तो गांव के नजदीक एक चौराहे से पहले छह बजे दलित प्रधान पति अर्जुन को अपहरण किया गया उसके बाद रात करीब 10:30 बजे गांव में एक तिवारी जी के मकान की बाउंड्री के अंदर उनका जला हुआ शरीर मिला। जिसके बाद मामले की सूचना मुंशीगंज कोतवाली पुलिस को दी गई और पुलिस ने फौरन उन्हें इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया और जहां इलाज के दौरान प्रधान पति की मौत हो गई।
वहीं प्रधान पति की मौत से पहले प्रधान पति का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल ऑडियो में मृतक प्रधान पति अर्जुन ने गांव के ही 5 लोगों पर अपहरण कर हत्या करने की बात कर रहा है कहीं ना कहीं मृतक प्रधान पति की इस ऑडियो में पूरे मामले में एक नया मोड़ ला दिया है।

एसपी दिनेश सिंह ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि कल शाम 11 बजे के 56 मिनट पर सूचना मिली गांव के कृष्ण कुमार के हाते में जो हमारे प्रधान स्वर्गीय अर्जुन है। प्रधान के पति को जली हुई अवस्था मे हाते में है तत्काल पुलिस वहां पहुची उपचार के लिये सुल्तानपुर रेफर कर दिया गया आज सुबह लखनऊ ले जाते समय प्रधान पति की मौत हो गई। उनके परिजनों के द्वारा दी गयी तहरीर में पांच नफर अभियुक्तो के खिलाफ तहरीर दी गयी है जिसको पंजीकृत किया जा रहा है और आख्या संकलित कर निष्पक्ष कार्यवाही की जाएंगी। यह विवेचना की विषय है इसमें हमारी एफेसल की टीम, सर्विलांस की टीम सक्रिय है इसमें हम और भी साक्ष्य जो भौतिक साक्ष्य है सबको संकलित कर के यथा शीघ्र अभियुक्तो की गिरफ्तारी की जायेगी

Show More

Related Articles

Back to top button