दिल्लीदेश

जन्मदिन विशेष : भारतीय महिला खिलाड़ी मिताली राज ने भरतनाट्यम छोड़ क्रिकेट को क्यों चुना ?

दिल्ली। मिताली (Mitali Raj) का जन्म 3 दिसम्बर 1982 को राजस्थान के जोधपुर में एक तामिल परिवार मै हुआ था। मिताली के पापा इंडियन एयरफ़ोर्स में विमानचालक है । उन्होंने बचपन से ही क्लासिकल डांस सीखना शुरू किया और सिर्फ 10 साल की उम्र में वो भरतनाट्यम में एक्सपर्ट हो गई और फिर इसीमे करियर करने की सोचने लगी । लेकिन मिताली बचपन से ही बहुत आलसी थी इसीलिए उनके पिता ने उसे एक्टिव बनाने के लिए डांस के साथ साथ क्रिकेट की ट्रेनिंग देनी शुरुवात कर दी । लेकिन आगे चलके डांस और क्रिकेट दोनों तरफ ध्यान देना बहुत मुश्किल हो गया था इसीलिए मिताली के डांस टीचर ने किसी एक में आगे बढ़ने को कहाँ और तब मिताली ने क्रिकेट चुन लिया।

Birthday Special: Why did Indian women player Mithali Raj choose cricket over Bharatanatyam?

मिताली राज को महिला सचिन तेंदुलकर कहा जाता है। मिताली राज ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत 16 साल की उम्र में एकदिवसीय मैच से की और इसी मैच में उन्होंने 114 रन बनाकर भी नॉट आउट होने का शानदार रिकॉर्ड बनाया, जिसे अभी तक कोई नहीं तोड़ पाया। अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाली महिला है, और ये एक मात्र ऐसी महिला है जिन्होंने वनडे में 6,000 रनों से भी ज्यादा रन बनाकर रिकॉर्ड कायम किया। ये लगातार सात बार अर्धशतक लगाने वाली पहली महिला खिलाड़ी हैं। मिथाली राज भारत के लिए (पुरुष और महिला दोनों में) पहली कप्तान है जोकि 2005 और 2017 दो बार आईसीसी ओडीआई विश्वकप फाइनल में शामिल हो सकी। मिथाली राज सीधे हाथ की बल्लेबाज और सीधे हाथ की लेग ब्रेक गेंदबाज हैं।

Birthday Special: Why did Indian women player Mithali Raj choose cricket over Bharatanatyam?

Show More

Related Articles

Back to top button