अलीगढ़उत्तर प्रदेश

एएमयू छात्रों ने फ्रांस का किया विरोध, फ्रेंच प्रोडक्ट इस्तेमाल ना करने को लेकर शुरू की मुहिम

अलीगढ़। फ़्रांस में पैग़म्बर मोहम्मद साहब के बनाए गए कार्टून को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने एकत्रित होकर फ्रांस सरकार व फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मैंक्रों के ख़िलाफ़ जमकर नारेबाज़ी की। छात्रों ने मैंक्रों तेरी क़ब्र खुदेगी एएमयू की धरती पर नारे लगाते हुए यूनिवर्सिटी कैम्पस स्थित डक पौंड से बाबे सय्यद गेट तक मार्च निकाला साथ ही छात्रों ने फ्रेंच प्रोडक्ट के पोस्टर को भी जलाया और कहा कि इस्लाम से मोहब्बत करने वालों को चाहिए कि वह फ्रांस द्वारा निर्मित किसी भी चीज़ का इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें।

 AMU students protest France, start campaign against not using French product in alighadh

विरोध प्रदर्शन कर रहे एएमयू छात्रों ने कहा कि हमारे प्यारी नबी मोहम्मद साहब की शान में जिस प्रकार से फ्रांस ने व वहाँ के मौजूदा राष्ट्रपति ने गुस्ताख़ी की है। उसके विरोध में हम लोगों ने आज विरोध प्रदर्शन किया है। 2011 से लगातार फ्रांस की एक मैगज़ीन इस प्रकार के पोस्टर को बनाती चली आ रही है। हद अब ये हो गई है कि उस देश के राष्ट्रपति ने अब उस विवादित पोस्टर को सरकारी इमारतों पर प्रदर्शित किया है। ये बहुत ही निंदनीय कृत्य राष्ट्रपति मैंक्रों द्वारा किया गया है।

 AMU students protest France, start campaign against not using French product in alighadh

आगे एएमयू छात्रों ने कहा कि बीते तीन दिनों के अंदर जिस प्रकार से फ्रांस को 28 मिलियन का नुकसान हुआ है इस बात से उसको अंदाज़ा लगा लेना चाहिए कि इस प्रकार की हरकतें फ्रांस के लिए कितनी नुकसानदायक हैं। हमने आज प्रोटेस्ट जो निकाला है उसका यही मक़सद है कि एएमयू व इसके चाहने वालों के साथ ही इस्लाम को मानने वाले लोग तत्काल प्रभाव से फ्रांस के प्रोडक्ट का इस्तेमाल किसी भी रूप में बंद कर दें।

Show More

Related Articles

Back to top button